संवैधानिक व्यवस्था और पदों से खिलवाड़ कर रही आप : तरुण चुग

tarun chugh
1 0

चंडीगढ़ l भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव तरुण चुग ने आम आदमी पार्टी पर संवैधानिक व्यवस्था और संवैधानिक पदों से खिलवाड़ करने का आरोप लगाया है। मिडिया में जारी एक बयान में चुग ने कहा कि देश की लोकतान्त्रिक व्यवस्था में हर पद की एक गरिमा होती है लेकिन आम आदमी पार्टी और उसके नेताओं ने संवैधानिक गरिमा को तार तार किया है l

चुग ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि दिल्ली के मुख्य मंत्री अरविंद केजरीवाल को 9 बार भेजे गए समन का सम्मान नहीं करने पर कानून ने अपनी कार्रवाई की है। उन्होंने कहा कि जांच एजेंसियां ने जिस तरह जांच में और न्यायालय ने बताया कि भ्रष्टाचार के असली किंगपिन अरविंद केजरीवाल हैं । इससे यह साफ जाहिर होता है कि संवैधानिक पद पर विराजमान एक व्यक्ति किस प्रकार से प्रशासनिक तंत्र के माध्यम से भ्रष्टाचार कर सकता है, उसका ब्योरा अरविंद केजरीवाल और उनकी पार्टी और सरकार द्वारा दिल्ली शराब घोटाले में साक्षात मिलता है।

चुग ने कहा कि यह हैरतअंगेज भी है कि न्यायालय में ईडी द्वारा मनी ट्रेल के जो भी तथ्य पेश किए गए, उनमें से किसी भी तथ्य को अरविंद केजरीवाल का पक्ष रखने वाले वकीलों द्वारा नकारा नहीं गया , अब अरविंद केजरीवाल का अपराध साबित हो चुका है, उन्हें लेवल प्लेइंग गेम का बहाना बंद करना चाहिए और कानून का सामना करना चाहिए।

चुग ने ध्यान दिलाते हुए कहा कि 4 सितंबर को 2020 को मनीष सिसोदिया के आदेश पर दिल्ली सरकार ने एक एक्सपर्ट कमेटी का गठन किया जिसके अध्यक्ष तत्कालीन आबकारी आयुक्त थे। इस कमेटी ने 13 अक्टूबर 2020 को अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत की जिसे 31 दिसंबर 2020 को सार्वजनिक किया गया और फिर इस रिपोर्ट पर आए 14671 सुझावों को 5 फरवरी को 2021 को अरविंद केजरीवाल की मंत्रीपरिषद में प्रस्तुत किया गया। इन मंत्रियों में मनीष सिसोदिया, सत्येन्द्र जैन और कैलाश गहलोत मुख्य लोग थे। कोर्ट के सम्मुख दस्तावेजों में साफ इंगित है कि इन दस्तावेजों में बिना किसी कारण के बदलाव किए गए हैं और बदला हुई रिपोर्ट कभी जनता के सामने प्रस्तुत ही नहीं हुई।

चुग ने कहा कि आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता पूछ रहे हैं कि पैसा कहां है और किसे दिया गया लेकिन आबकारी घोटाले में कब किसे कितना पैसा दिया गया इसका विवरण भी जांच एजेंसियों ने आज न्यायालय में दिया है। 25 अप्रैल 2023 को शरत रेड्डी ने कहा कि विजय नायर के माध्यम से अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया से मुलाकात हुई और शरत रेड्डी के अनुसार उन्हें काली एसयूवी से उठाकर एक बंग्ले में ले जाया गया जहां अरविंद केजरीवाल ने उनसे मुलाकात की। इस मुलाकात का पूरा विवरण न्यायालय में पेश किया गया। उच्च न्यायालय ने विजय नायर की बेल खारिज करते हुए कहा कि इनके खिलाफ गंभीर आरोप हैं और मीडिया ने भी उनके विरुद्ध जानकारी प्रस्तुत की है।

गोवा चुनाव में 45 करोड़ रुपए का प्रयोग किया गया। गोवा चुनाव के लिए चिन्हित कंपनी के कर्मचारी इस्लाम काजी ने बताया कि चुनाव में काले धन का उपयोग किया गया। सीबीआई ने अपनी पूरक आरोपपत्र के साथ 8 जुलाई 2023 को खुलासा किया, जिसमें कॉल रिकॉर्डिंग और दस्तावेज शामिल हैं।सार्वजनिक दस्तावेजों से पता चला है कि आम आदमी पार्टी ने 4 मार्गों से पैसा गोवा भेजा था। ताकि आम आदमी पार्टी भ्रष्टाचार के पैसे से अपनी राजनीतिक पहचान बना सके।

advertisement at ghamasaana