अपनी कोरोना वैक्सीन वापस लेगी एस्ट्राजेनेका, भारत में भी सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई

corona
0 0

नई दिल्ली। दवा निर्माता कंपनी एस्ट्राजेनेका ने अपनी कोरोना वैक्सीन को वापस लेने का निर्णय लिया है। ये फैसला कंपनी ने विवाद बढ़ने के बाद लिया है। वहीं भारत में सुप्रीम कोर्ट ने एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन के साइड इफेक्ट के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई के लिए सहमति दे दी है। हालांकि इसके लिए अभी कोई समय निर्धारित नहीं किया गया है।

एस्ट्राजेनेका कंपनी ने कहा है कि यूरोपीय यूनियन के देशों से अपनी कोरोना वैक्सीन वैक्सजेवरिया को वापस ले रही है। टेलीग्राफ की रिपोर्ट के अनुसार, आने वाले दिनों में ब्रिटेन और दूसरे देशों में भी वैक्सीन को वापस लेने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। कंपनी ने ये फैसला फरवरी में ब्रिटेन की कोर्ट में वैक्सीन के चलते गंभीर बीमारी होने की बात स्वीकार करने के बाद लिया है । एस्ट्राजेनेका ने वैक्सीन को वापस लेने के पीछे व्यावसायिक बताया है, वहीं ब्रिटेन में कंपनी टीके को लेकर गंभीर आरोपों का सामना कर रही है। भारत में भी एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन करोड़ों लोगों को लगी है। टीके को लेकर भारत के सुप्रीम कोर्ट में मामला पहुंचा है।

एस्ट्राजेनेका ने वैक्सीन को वापस लेने की वजह बताते हुए कहा यह फैसला इसलिए लिया गया क्योंकि अब विभिन्न प्रकार के नए टीके उपलब्ध हैं, जिन्हें कोविड.19 वेरिएंट को लक्षित करने के लिए तैयार किया गया है। भारत में मुख्य न्यायाधीश डीवाई चंद्रचूड़ ने सुनवाई के लिए तारीख तय नहीं की है।

याचिकाकर्ता ने मांग की है कि वैक्सीन के साइड इफेक्ट और अन्य संभावित जोखिमों की जांच विशेषज्ञ पैनल से कराई जाए और इसकी निगरानी सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड न्यायाधीश द्वारा की जानी चाहिए। याचिका में मुआवजे के लिए निर्देश की भी मांग की गई है। एस्ट्राजेनेका की कोरोना वैक्सीन भारत में कोविशील्ड के नाम से लगाई गई हैए जिसका उत्पादन सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने किया है।

advertisement at ghamasaana