इस सब्जी की खेती करके आप हो जाएंगे मालामाल, कम लागत और मुनाफा ज्यादा, जानिए कैसे

agriculture
1 0

अगर आप खेती करके परेशान हो गए हैं। काफी मेहनत करते हैं, इसके बावजूद अपेक्षित परिणाम नहीं मिल रहे हैं। मतलब आपके लिए खेती घाटे का सौदा साबित हो रही है। घर से पैसा लगा रहे हैं और दिन रात खेतों में मेहनत कर रहे हैं, लेकिन फायदा न के बराबर हो रहा है, तो आप सही लेख पढ़ रहे हैं। खेत खलिहान के इस भाग में हम आपको खेती में कम लागत में अधिक मुनाफा कमाने के तरीके बताते रहते हैं। जिससे आपके लिए खेती हर समय फायदे का धंधा बनी रहे। हम यह जानकारियां विशेषज्ञों की सलाह और किसानों के अनुभव के आधार पर ही आपको बताते हैं। तो आज हमेश की तरह हम आपको एक ऐसी सब्जी की खेती के बारे में बताने जा रहे हैं, जो आपके लिए सफलता के दरवाजे खोल देगी।

वैसे तो बाजार में ऐसी कई सब्जियां हैं, जिनकी खेती करके आप मुनाफा कमा सकते हैं, लेकिन एक ऐसी सब्जी है जो न केवल स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होती, बल्कि इसकी हर व्यक्ति इसे पसंद करता है। इसीलिए बाजार में इसकी मांग हर समय बनी रहती है। जी हां हम बात कर रहे हैं भिंडी की । भिंडी की खेती करके बंपर मुनाफा कमाया जा सकता है। सब्जियों की यह खेती आर्थिक रूप से काफी फायदेमंद साबित होती है।

अगर जमीन कम है तो सब्जियों की खेती और भी लाभदायक साबित होती है। भिंडी की बुआई करने से पहले यह अच्छी तरह से जान लें कि यदि सही तरीके से भिंडी की बुआई की जाएगी तो पौधों में फलत अच्छी होगी। कतार से कतार की दूरी कम से कम 40 से 45 सेमी होनी चाहिए। बीज 3 सेमी से ज्यादा गहराई में नहीं डालना चाहिए। पूरे खेत को उचित आकार की पट्टियों में बांट लेना चाहिए। जिससे सिंचाई करने में सुविधा हो जाती है। एक हेक्टेयर में करीब 15 से 20 टन गोबर की खाद की जरूरत पड़ती है। समय-समय पर निराई गुड़ाई भी करते रहना चाहिए। ताकि अधिक से अधिक पैदावार हासिल की जा सके।
बता दें कि भिंडी की सब्जी स्वास्थ्य के लिए काफी फायदा करती है। इससे कैंसर की बीमारी दूर रहती है। वहीं यह हृदय संबंधी रोगों को दूर करती है। डायबिटीज के मरीजों को भी भिंडी खाना चाहिए। इसके अलावा एनेमिया रोग में भिंडी काफी फायदा करती है।

भिंडी की खेती अगर बेहतर तरीके से की जाए तो एक एकड़ में 5 लाख रुपये तक की आमदनी हो सकती है। इसमें लागत निकाल दें तो कम से कम 3.5 लाख रुपये की बचत होती है। भिंडी की मांग हर मंडी में रहती है और सीजन में इसके भाव भी अच्छे रहते हैं। बता दें भिंडी की फसल के प्रमुख राज्यों में झारखंड, मध्यप्रदेश, गुजरात, पंजाब, उत्तरप्रदेश, असम, महाराष्ट्र आदि हैं। इसके अलावा हरियाणा एवं राजस्थान में भी भिंडी की खेती खूब की जाने लगी है।

advertisement at ghamasaana